Print Friendly, PDF & Email

क्लेश निवारक शाबर मन्त्र
मन्त्रः- “ॐ ग्लौम् गौरी-पुत्र, वक्रतुण्ड, गण-पति, गुरु, गणेश ! ग्लौम् गण-पतिं, ऋद्धि-पति, सिद्धि-पति ! मेरे कर दूर क्लेश ।।”

ganesh with ridhi sidhi
विधिः- १०८ दूर्वांकुर व एक लड्‌डू लेकर गणेश-मन्दिर में जाए । गणपति जी को सिन्दूर का तिलक लगाए, लड्‌डू चढ़ाए । तब १०८ बार मन्त्र को पढ़ें । प्रत्येक मन्त्र पर एक दूर्वांकुर गणपति जी को चढ़ाता जाए । यह क्रम आठ दिन, प्रातःकाल के समय, बिना भोजन किए हुए करे । शीघ्र ही परिवार के या स्वयं के क्लेश का निवारण होगा ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.