त्रिखल जन्म दोष क्या है ?
जब किसी स्त्री के तीन लड़कियों के बाद लड़के का जन्म हो या तीन लड़कों के पश्चात् लड़की का जन्म हो तो ‘त्रिखल’ नामक दोष होता है । पुत्र जन्म हो तो पिता को भय, बीमारी और धन हानि होती है । पुत्री के जन्म होने से माता के लिये अरिष्ट है । ऐसी स्थिति में अपने पुरोहित से विधिपूर्वक त्रिखल शान्ति करवानी चाहिये । विशेष रुप से इस अवसर पर तीन अन्न, तीन वस्त्र और तीन धातु (सोना, चाँदी व ताँबा) का दान किया जाता है । पीली सरसों का हवन किया जाता है तथा किसी अपरिचित ब्राह्मण को भोजन करा कर दान दिया जाता है । विद्वानों का विचार है कि 11वें दिन उक्त शान्ति विधान करें । ‘रुद्र सूक्त’ और ‘शान्ति-सूक्त’ का पाठ कराना चाहिये ।

Content Protection by DMCA.com

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.