Print Friendly, PDF & Email

सर्व-कार्य-कारी सिद्ध मन्त्र
(१) ”ॐ पीर बजरङ्गी, राम – लक्ष्मण के सङ्गी, जहाँ-जहाँ जाए, फतह के डङ्के बजाए, दुहाई माता अञ्जनि की आन ।”
(२) “ॐ नमो महा – शाबरी शक्ति ! मम अनिष्ट निवारय-निवारय । मम कार्य-सिद्धि कुरु कुरु स्वाहा ।”

vadicjagatविधि :- यदि कोई विशेष कार्य करवाना हो अथवा किसी से अपना काम बनवाना हो तो कार्य प्रारम्भ करने के पूर्व अथवा व्यक्ति- विशेष के पास जाते समय उक्त दो मन्त्रों में से किसी भी मन्त्र का जप करता हुआ जाए । कार्य मे सिद्धि होगी ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.