Print Friendly, PDF & Email

विघ्न दूर करने का मन्त्र
मन्त्र:-
“सकल विघ्न ब्यापहिं नहिं ताही ।
राम सुकृपाँ बिलोकहिं जाही ।।”

मन्त्र की प्रयोग विधि और लाभ
लाल रंग का वस्त्र दोनों कंधों पर रखकर इस मन्त्र का जप करें । इसे कम-से-कम 108 बार नित्य पढ़ते हुए 40 दिन पूर्ण करें । 41वें दिन इस वस्त्र की दो पताकायें बनाकर ब्रह्म-वृक्ष की जड़ के पास लगा आयें ।
इस मन्त्र के प्रयोग से सभी विघ्न-बाधायें समाप्त हो जाती हैं ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.