सफलता पाने का मन्त्र

 “प्रभु प्रसन्न मन सकुच
तजि जो जेहि आयसु देव ।
सो सिर धरि धरि करिहि
सबु मिटिहि अनट अवरेब ।।”

om, ॐ
मन्त्र की प्रयोग विधि और लाभ
प्रतिदिन इस मन्त्र के १००८ पाठ करने चाहिये ।
इस प्रकार से इस मन्त्र के प्रभाव से सभी कार्यों में अपूर्व सफलता मिलती है ।

Content Protection by DMCA.com

One comment on “सफलता पाने का मन्त्र

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.