अखाड़ा खोलना
मन्त्रः- “उल्टा घोड़ा, उल्टा पीर । उल्टा चले मुहमदा पीर । मैं कहूं अखाड़े को खोल, न खोले तो बीबी फातिमा की आन, सुअर की चर्सा पर नमाज पढ़ै ।।”

vadicjagat
विधि –लोबान की धूनी देकर ७ दिनों तक नित्य १०८ बार जप करे । आवश्यकता होने पर इसे पढ़ते हुए अखाड़े के बीच में खडे होकर चारों तरफ घूम जाने पर अखाड़ा खुल जाएगा ।

Content Protection by DMCA.com

One comment on “अखाड़ा खोलना

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.